ब्रेकिंग न्यूज़ जेटली मानहानि केस में केजरीवाल समेत 6 AAP नेताओं पर आरोप तय, चलेगा ट्रायल                जूनियर को फॉरेन सेक्रेटरी बनाए जाने से बासित नाराज, PAK ढूंढ रहा रिप्लेसमेंट                यूपी: सीतापुर में आग से जले 9 घर, 2 लाख का सामान जलकर हुआ खाक                    
मध्यप्रदेश पर्यटन विकास निगम में मुफ्तखोरी....



 अर्जुन सिंह की स्मृति में हुए कार्यक्रम का भुगतान डूबत खाते में..

 (डॉ.नवीन जोशी)

 भोपाल ।मध्य प्रदेश राज्य परिवहन निगम के बंद होने की कहानी फिर एक बार दोहराई जा रही है। मध्य प्रदेश पर्यटन विकास निगम जो कभी मुनाफे में चल रहा था ,वह धीरे-धीरे उसी रास्ते चल पड़ा हैं। राजनीतिक लोगों को लाभ देने और उपकृत करने के कारण निगम लगातार घाटे में जा रहा।  पर्यटन विकास निगम के रहते ही पर्यटन विकास बोर्ड का गठन पूर्ववर्ती शिवराज सरकार ने निगम को बंद करने की कोशिशें शुरू कर दी थी, कमलनाथ सरकार ने आने के बाद सरकारी और गैर सरकारी आयोजनों में निगम को भुगतान न किए जाने का सिलसिला शुरू कर डूबत खाता एक्टिव कर दिया है ।ताजा उदाहरण पूर्व मुख्यमंत्री अर्जुनसिंह सिंह की स्मृति में मिंटो हाल में 2 नवम्बर को हुए कार्यक्रम का है , जिसमें स्वयं मुख्यमंत्री कमलनाथ मौजूद थे।अर्जुन सिंह के राजनीतिक जीवन पर आधारित एक लघु फिल्म का लोकार्पण किया गया और उनके परिजनों तथा समर्थकों ने उन्हें याद किया। मिंटो हाल में हुए इस आयोजन पर कुल व्यय 20 लाख से अधिक हुआ है, लेकिन  इसे निगम के खाते में( फ्री आफ कॉस्ट ) करना पड़ा है ।इसी तरह के आयोजन बीते दिनों भी कई हो चुके हैं ।वर्ष 2018 में 70 करोड रूपए खर्च करके जिस मिंटो हाल का मेंटेनेंस पर्यटन विकास निगम ने अपने हाथों में लिया है,इस बारिश में उसकी पोल खुली जब हाल की छत टपकती रही ।
एक तरफ पर्यटन निगम अपने रीजनल मैनेजर्स को आय बढ़ाने के  लक्ष्य निर्धारित करता है ,उनको बैठकों में टारगेट पर काम करने और व्यवसाय को बढ़ाने में जोत रहा हैं, वहीं दूसरी तरफ इस तरह के फ्री आफ कॉस्ट  सरकारी और गैर सरकारी आयोजन करके निगम का भट्ठा बैठाया जा रहा है  । मुफ़्त में होते ऐसे आयोजनों के इस संबंध में पर्यटन विकास निगम के प्रबंध संचालक फैज अहमद किदवई से चर्चा करना चाही तो वे उपलब्ध नहीं हुए ।

Advertisment
 
Copyright © 2017-18 AAJ SAMACHAR - बुलंद आवाज़ दबंग अंदाज़.