ब्रेकिंग न्यूज़ जेटली मानहानि केस में केजरीवाल समेत 6 AAP नेताओं पर आरोप तय, चलेगा ट्रायल                जूनियर को फॉरेन सेक्रेटरी बनाए जाने से बासित नाराज, PAK ढूंढ रहा रिप्लेसमेंट                यूपी: सीतापुर में आग से जले 9 घर, 2 लाख का सामान जलकर हुआ खाक                    
Mp स्पॉन्सर मगर यहां से कोई योग्य नहीं



मध्यप्रदेश ने किया स्पॉन्सर लेकिन मध्य प्रदेश का प्रतिनिधित्व नहीं....
 भोपाल( नवीन जोशी)   आगामी 22 और 23 फरवरी को बेंगलुरु में आयोजित हो रहे राजनेताओं अफसरों अकादमिक ,खेल और मनोरंजन के क्षेत्र से जुड़े हुए लोगों का डिस्कशन डिबेट और डायलॉग होने जा रहा है। इसमें देश के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद भाग ले रहे हैं और श्रीलंका के पूर्व प्रधानमंत्री विक्रम सिंह सहित भारत के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह मुख्य अतिथि होंगे ।इसमें छत्तीसगढ़ राज्य के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल शिरकत करेंगे, राजस्थान के उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट भी होंगे विभिन्न राजनीतिक क्षेत्रों के लोग होंगे जिनमें मनीष तिवारी प्रमुख हैं
। फिल्म क्षेत्र में तापसी पन्नू मनीषा कोइराला मिथिला पालकर रहेंगी, लेकिन अफसोस के मध्य प्रदेश का इसमें कोई प्रतिनिधित्व नहीं रहेगा। बात प्रतिनिधित्व की ही नहीं है जिस मध्यप्रदेश ने अपनी 7 करोड़ जनता के टैक्स से मिला पैसा इस आयोजन के स्पॉन्सरशिप पर खर्च किया है.  वह मध्यप्रदेश इस आयोजन को देख भी नहीं सकेगा।
 द हिंदू ग्रुप द्वारा आयोजित इस आयोजन में हिंदुस्तान कोका कोला और इंस्पायर्ड बाय इंडिया जैसी कंपनियां। सहयोगी स्पॉन्सर है वही एनटीपीसी, स्पाइसजेट और रॉयल ऑक जैसे स्पॉन्सर पार्टनर भी है ....क्या मध्य प्रदेश में राजनीतिक क्षेत्र में साहित्य ,खेल के क्षेत्र में या ब्यूरोक्रेसी में कोई एक ऐसा प्रतिनिधि नहीं है जो इस आयोजन में शिरकत कर सकता था और मध्य प्रदेश का पक्ष रख सकता था जहां हम देश के बाहर दुनिया में निवेश लाने के लिए बड़े-बड़े इवेंट आयोजित करते हैं। कमलनाथ जिस निवेश की बात करने के लिए दुबई में 3 दिन तक उद्योगपतियों से राजनेताओं से मिलने जाते हैं। दावोस में हर साल मध्य प्रदेश की खातिर निवेश लाने पहुंचते हैं क्या उन्हें बेंगलुरु जाने का समय नहीं मिला ..   यह सवाल मध्य प्रदेश की जनता के दिलों दिमाग में गूंज रहा है।
 नवीन जोशी की रिपोर्ट।

Advertisment
 
Copyright © 2017-18 AAJ SAMACHAR - बुलंद आवाज़ दबंग अंदाज़.